देश में साठ प्रतिशत की दर से ठीक हो रहे हैं कोरोना मरीज
Editor : Mini
 30 Jun 2020 |  76

नयी दिल्ली,
देश में कोविड-19 रोगियों के ठीक होने की दर 60 प्रतिशत के करीब पहुंच गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने इसका श्रेय महामारी की रोकथाम और प्रबंधन के लिए केन्द्र तथा राज्यों के सामूहिक एवं केन्द्रित प्रयासों को दिया है। देश में फिलहाल ठीक हो चुके लोगों की संख्या मौजूदा रोगियों की तादाद से 1,19,696 अधिक है।
मंत्रालय ने कहा कि देश में 2,15,125 लोग अब भी सक्रिय कोरोना वायरस से संक्रमित हैं जबकि 3,34,821 लोग ठीक हो चुके हैं। बीते 24 घंटे में कोविड-19 के 13,099 रोगी ठीक हुए हैं। मंत्रालय के मुताबिक, देश में कोविड-19 रोगियों के ठीक होने की दर सुधार के साथ 59.07 प्रतिशत पर पहुंच गई है। भारत में जांच करने वाली प्रयोगशालाओं की संख्या लगातार बढ़ रही है। फिलहाल देश में कोविड-19 जांच करने वाली प्रयोगशालाओं की संख्या 1,049 है। इनमें सरकारी सेक्टर की 761 और 288 निजी प्रयोगशालाएं हैं। आईसीएमआर के अनुसार 29 जून तक 86,08,654 नमूनों की जांच की जा चुकी है। सोमवार को 2,10,292 नमूनों की जांच की गई।

दिल्ली में कोरोना संक्रमण से ठीक होने की दर राष्ट्रीय औसत दर से अधिक
दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण से उबरने की दर 29 जून को 66.03 प्रतिशत तक पहुंच गई, जो राष्ट्रीय औसत 58.67 फीसदी से अधिक है। आधिकारिक आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। आंकड़ों के अनुसार दिल्ली में जून में संक्रमण के 64 हजार से अधिक मामले सामने आए जबकि 47,357 लोगों को ठीक होने के बाद छुट्टी मिल गई या वे दिल्ली से चले गए।
राष्ट्रीय राजधानी में रोगियों के ठीक होने की दर धीरे-धीरे बढ़ रही है। 19 जून को दिल्ली में रोगियों के ठीक होने की दर 44.37 प्रतिशत थी, जो उसके अगले दिन यानि 20 जून बढ़कर 55.14 प्रतिशत हो गई। तब से रोगियों के संक्रमण से उबरने की दर लगातार बढ़ रही है। दिन में तीन हजार से अधिक मामले सामने आने के बावजूद इस दर में वृद्धि दर्ज की गई है। राजधानी में 23 जून को एक दिन में संक्रमण के सबसे अधिक 3,947 मामले सामने आए, तब ठीक होने की दर 59.02 प्रतिशत थी। हालांकि 24 जून को यह दर थोड़ी गिरावट के बाद 58.86 प्रतिशत रही, लेकिन अगले दिन यानि 25 जून को यह फिर बढ़कर 60.67 प्रतिशत पर पहुंच गई। तब से ठीक होने के दर पर 60 प्रतिशत से अधिक पर बनी हुई है। 26 जून तक दिल्ली में संक्रमितों की कुल संख्या 77,240 जबकि ठीक हो चुके लोगों की संख्या 47,091 थी। इस दिन संक्रमण से उबरने की दर 60.96 प्रतिशत थी। आंकड़ों के अनुसार अगले दिन यानि 27 जून को दिल्ली में संक्रमितों की संख्या 80,000 के पार हो गई। इस दिन ठीक होने की दर 61.48 प्रतिशत थी। इसके बाद 29 जून को यह बढ़कर 66.03 प्रतिशत पर पहुंच गई। आंकड़ों के मुताबिक 15 जून से 29 जून के बीच कुल 40,012 मरीज ठीक हुए, जिनमें अकेले 20 जून को ठीक हुए 7,725 रोगी शामिल हैं। इस दौरान दिल्ली में संक्रमण के कुल 44,015 मामले सामने आए। दिल्ली में 18 जून को रोगियों के ठीक होने के दर 42.69 प्रतिशत थी। इससे 13 दिन पहले तक यह दर 40 प्रतिशत से नीचे थी। दिल्ली में फिलहाल ठीक हो चुके लोगों की संख्या मौजूदा रोगियों की तादाद से 1,19,696 अधिक है। मंत्रालय ने कहा कि देश में 2,15,125 लोग अब भी कोरोना वायरस से संक्रमित हैं जबकि 3,34,821 लोग ठीक हो चुके हैं। बीते 24 घंटे में कोरोना के 13,099 रोगी ठीक हुए हैं। मंत्रालय के मुताबिक, देश में कोविड-19 रोगियों के ठीक होने की दर सुधार के साथ 59.07 प्रतिशत पर पहुंच गई है। भारत में जांच करने वाली प्रयोगशालाओं की संख्या लगातार बढ़ रही है। फिलहाल देश में कोविड-19 जांच करने वाली प्रयोगशालाओं की संख्या 1,049 है। इनमें सरकारी सेक्टर की 761 और 288 निजी प्रयोगशालाएं हैं। आईसीएमआर के अनुसार 29 जून तक 86,08,654 नमूनों की जांच की जा चुकी है। सोमवार को 2,10,292 नमूनों की जांच की गई।


Browse By Tags




Related News

Copyright © 2016 Sehat 365. All rights reserved          /         No of Visitors:- 1258965