माईहोप से मानसिक रोगियों को घर बैठे मिलेगी काउंसलिंग
Editor : Mini
 05 Oct 2020 |  259

नई दिल्ली,
मानसिक रोगियों के लिए दस अक्टूबर को मेंटल हेल्थ फाउंडेशन ऑफ इंडिया और एम्स साइक्रेट्रिक विभाग के सहयोग से ऑन लाइन कंसल्टेशन के लिए वेबपोर्टल शुरू किया जाएगा। एमआईहोप (माई होप ) नाम से शुरू इस पोर्टल में देश के किसी भी कोने में बैठकर विशेषज्ञों से संपर्क किया जा सकेगा। इसमें दवाओं के अलावा तनाव को दूर करने के अन्य साधन जैसे योगा, साधन और लाइफ स्टाइल संबंधी आदतें आदि के बारे में भी मरीजों की काउंसलिंग की जाएगी।

भावनात्मक सहयोग की कमी से बढ़ रहे हैं मानसिक रोगी

एम्स के साइक्रेटिक विभाग के डॉ. नंद कुमार ने बताया कि मानसिक स्वास्थ्य के बारे में लोगों जागरुकता बढ़ी है। विशेषज्ञों की टीम व्यवहार से मानसिक रोगियों की पहचान और इलाज अब अधिक बेहतर ढंग से कम पा रही है, विशेषज्ञ मानते हैं कि मानसिक तनाव की समस्या कोरोना काल से पहले से ही मौजूद है, लेकिन कोरोना की निश्चितता में यह अधिक गंभीर हुई। उन्होंने कहा कि एक डॉक्टर होने के नाते साइके्रटिक मरीजों की जांच व इलाज तो कर देते हैं, लेकिन मरीजों में भावनात्मक सहयोग की कमी देखी जाती है, जिसे परिवार या करीबी ही पूरा कर सकते हैं। डॉ. नंद कुमार ने कहा कि अन्य किसी भी शारीरिक बीमारी की तरह मानसिक स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का भी इलाज किया जा सकता है, लेकिन विशेषज्ञ भावनात्मक इलाज करने में अधिकांशत: फेल होते हैं।

चार से 11 अक्टूबर तक चलेगा समिट
एम्स के साइक्रेटिक विभाग (मेंटल हेल्थ फाउंडेशन) , वल्र्ड फेडरेशन फॉर मेंटल हेल्थ और मेंटल हेल्थ फाउंडेशन ऑफ इंडिया के सहयोग से चार से 11 अक्टूबर के बीच चलने वाले मेंटल हेल्थ एक्सेस समिट 2020 का वर्चुअल आयोजन किया गया। कार्यक्रम का औपचारिक उद्घाटन एम्स के निदेशक डॉ. रनदीप गुलरिया ने किया। । 11 अक्टूबर तक चलने वाले मेंटल हेल्थ एक्सेस समिट के वर्जुअल सेमिनार में 1600 से अधिक प्रतिनिधियों से भाग लेने की संभावना है। जिसमें छह विषयों पर 12 पैनलिस्ट सहित 80 जाने माने विशेषज्ञ चर्चा करेगें।


Browse By Tags




Related News

Copyright © 2016 Sehat 365. All rights reserved          /         No of Visitors:- 1645450