पीएम मोदी के आहृवान पर देशभर में चार दिवसीय टीका उत्सव शुरू
Editor : Mini
 11 Apr 2021 |  153

नई दिल्ली,
रविवार को देशभर में चलने वाले चार दिवसीय टीका उत्सव की औपचारिक शुरूआत की गई। समाज सुधारक ज्योतिबा फूले की जयंती पर शुरू हुए टीका उत्सव का समापन 14 अप्रैल को डॉ. भीमराव अंबेडकर जयंती पर किया जाएगा। इस दौरान कोरोना वैक्सीन को लेकर लोगों को जागरूक किया जाएगा। 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को सरकार वैक्सीन का टीका उपलब्ध करा रही है। जिसे एक अप्रैल से शुरू किया गया है, इससे पहले 16 जनवरी से देशभर में कोरोना का वैक्सीन लगना शुरू कर दिया गया था। विभिन्न राज्यों से मिली रिपोर्ट के अनुसार टीका उत्सव का पहला दिन सामान्य रहा, महाराष्ट्र, गुजरात और मध्यप्रदेश सहित कई राज्यों में टीका उत्सव के प्रति लोगों खासा रूझान देखा गया।
प्रधानमंत्री मोदी ने इस मौके पर देशवासियों को पत्र लिखकर कोरोना से लड़ाई के लिए चार सूत्रीय फॉर्मूला दिया है। उन्होंने पत्र में कहा कि आज 11 अप्रैल यानि ज्योतिबा फुले जयंती से हम देशवासी टीका उत्सव की शुरुआत कर रहे हैं। यह टीका उत्सव 14 अप्रैल यानि बाबा साहेब अंबेडकर जयंती तक चलेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत जैसे सघन जनसंख्या वाले हमारे देश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई का एक महत्वपूर्ण तरीका माइक्रो कन्टेनमेंट जोन भी है। उन्होंने कोरोना के खिलाफ जंग में महत्वपूर्ण बातों के बारे में भी बताया।
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन महाराष्ट्र सरकार की वरिष्ठ सलाहकार और यूनिसेफ महाराष्ट्र की तकनीकि सलाहकार डॉ. मृदुला ए फड़के ने बताया कि वैक्सीन उत्सव को लेकर लोगों में उत्साह देखा गया, लेकिन उत्सव को तब ही कारगर कहा जा सकता है जबकि सभी टीकाकरण केन्द्रों पर पर्याप्त संख्या में वैक्सीन भी उपलब्ध कराई जाएं, महाराष्ट्र में लंबे इंतजार के बाद भी लोगों को वैक्सीन नहीं मिल पा रही है, इस तरह की व्यवस्था टीकाकरण के प्रति लोगों का रूझान कम करेगी। हमें बहुत कम समय में संक्रमण के प्रति एक बड़ी आबादी में इम्यूनिटी तैयार करनी है, इसके लिए व्यवस्था भी व्यापक स्तर की होनी चाहिए। डॉ. फड़के ने कहा कि इसके साथ ही वैक्सीन लगने के बाद हमें कोरोना अनुरूपी व्यवहार का भी पालन करना है, लगातार हाथों को धोते रहना है मास्क लगाकर रखना है और ऐसे जगह पर जाने से बचना है जहां बहुत कम जगह पर अधिक लोग इकट्ठे होने की संभावना हो। संक्रमण का जोखिम कम होने तक ऐसे किसी भी सामाजिक कार्यक्रम में जाने से बचें और जरूरत हो तब ही घर से बाहर निकलें। टीका उत्सव के पहले दिन रविवार को 35,19,987 लोगों को कोरोना का वैक्सीन लगाया गया। देशभर में वैक्सीन लेने वालों की संख्या दस करोड़ 15 लाख से अधिक हो गई है। गुजरात में 89 लाख लोगों को कोरोना का वैक्सीन दिया जा चुका है। बिहार, सिक्किम, मणिपुर, उत्तर प्रदेश सहित राजस्थान में भी टीका उत्सव को अधिक से अधिक सफल बनाने पर जोर दिया गया।


Browse By Tags




Related News

Copyright © 2016 Sehat 365. All rights reserved          /         No of Visitors:- 2074262